खेल प्रशिक्षक खेल की सभी बारीकियाँ खिलाडी को सिखाता है। किन्तु उसके अतिरिक्त खेल प्रशिक्षक के और भी बहुत से कार्य होते है।

एक खेल प्रशिक्षक खिलाडी के स्वाथ्य की पूरी देखभाल करता है। खेल प्रशिक्षक के पास खिलाडी की पूरी जवाबदारी होती है। यदि खिलाडी के साथ कोई दुर्घटना होती है, तब  खेल प्रशिक्षक चिकित्सकों के साथ मिलकर उपचार, आपातकालीन देखभाल करता है।

खेल प्रशिक्षक को मासपेशियों से सम्बंधित क्रियाओ का अच्छी तरह ज्ञान होता है। किसी गंभीर स्थिति में पहला उपचार ट्रेनर ही देता है। बॉडी मसाज एवं मांसपेशियों के खिचाव से सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी होती है। खेल प्रशिक्षक बच्चो, बड़ो से लेकर पेशेवर खिलाड़ियों तक सभी उम्र के खिलाड़ियों के साथ काम करता है।

खेल प्रशिक्षक के कार्य 

आमतौर पर खेल प्रशिक्षक निम्नलिखित कार्य करते हैं:
  • प्राथमिक चिकित्सा या आपातकालीन देखभाल देना। 
  • टेप, पट्टियाँ और ब्रेसिज़ जैसे सुरक्षात्मक या चोट-निवारक उपाय करना। 
  • चोटों को पहचान कर उनका मूल्यांकन करना। 
  • घायल एथलीटों के लिए पुनः पूरी तरह स्वस्थ होने तक ध्यान रखना। 
  • अभ्यास के समय चोट और बीमारी को रोकने के लिए योजना बनाएं और उन्हें लागू करना। 
  • खिलाडी की संपूर्ण रिपोर्ट बनाकर रखना। जैसे कि परफॉर्मेंस का रिकॉर्ड रखना, नियमित अभ्यास का रिकॉर्ड रखना और चोटों और उपचार आदि की रिपोर्ट तैयार रखना। 
  • चोट लगने पर पहले स्वास्थ्य सेवा एथलेटिक ट्रेनर ही प्रदान करता है। 
  • खेल प्रशिक्षक की बजट, खेल उपकरण खरीदने, अभ्यास के नियम बनाने और अन्य संबंधित मुद्दों पर कार्य करने की जिम्मेदारी होती है। 
  • आने वाली प्रतियोगिताओ की जानकारी रखना एवं उसके अनुसार खिलाडी का अभ्यास करवाना भी खेल 
खेल प्रशिक्षक का व्यक्तित्व 
खेल प्रशिक्षक में एक अलग ही व्यक्तित्व होता हैं। वे सामाजिक व्यक्ति होते हैं, जिसका अर्थ है कि वे दयालु, उदार, सहकारी, कमजोर की देखभाल करने वाले, सहायक, सहानुभूतिपूर्ण, चतुर और मिलनसार होते हैं। वे समाजीकरण में उत्कृष्टता प्राप्त करते हैं, दूसरों की मदद करते हैं, और शिक्षण करते हैं। उनमें कुछ न कुछ नया करने का जस्बा होता है, जिसका अर्थ है कि वे बौद्धिक, आत्मनिरीक्षण और जिज्ञासु होते हैं।

खेल प्रशिक्षक कहाँ काम कर सकते है 
एथलेटिक प्रशिक्षक शैक्षिक सुविधाओं में काम कर सकते हैं, जैसे माध्यमिक स्कूल और कॉलेज। अन्य चिकित्सकों के कार्यालयों में या पेशेवर खेल टीमों के लिए काम कर सकते हैं। कुछ एथलेटिक प्रशिक्षक पुनर्वास और थेरेपी क्लीनिक में, सेना में, या प्रदर्शन करने वाले कलाकारों के साथ काम करते हैं। वे अपना अधिकांश समय सभी प्रकार के मौसमों में खेल के मैदानों में काम करने में बिता सकते हैं।